अवैध कोयला खनन पर सीबीआई का शिकंजा, राज्य के 30 जगहों पर पड़े छापे

28/11/2020,2:15:43 PM.

 

 

कोलकाता:  पश्चिम बंगाल के कोयलांचल क्षेत्रों में कोयले की चोरी और तस्करी के मामले में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने जांच शुरू कर दी है। शनिवार को सीबीआई की टीम ने रानीगंज, दुर्गापुर, कोलकाता, दक्षिण 24 परगना में 30 जगहों पर छापेमारी की है।

सीबीआई अधिकारियों की कुल 22 टीमों ने शनिवार की सुबह छापेमारी की। अलग-अलग जगहों पर तलाशी ले रहे हैं। इनमें कोयला तस्करी मामले के मुख्य आरोपी अनूप माझी उर्फ ​​लाला का घर और दफ्तर भी शामिल है। यहां तक ​​कि अनूप मांझी के रिश्तेदारों के घर भी सीबीआई द्वारा तलाशी ली जा रही है। कोयला तस्करी मामले की जांच आयकर विभाग भी कर रहा है। सीबीआई ने आयकर विभाग को एक पत्र भेजकर उनसे सभी सबूत और दस्तावेज मांगे थे।

उल्लेखनीय है कि मुर्शिदाबाद से उत्तर बंगाल तक कोयला तस्करी में शामिल अनूप माझी उर्फ ​​लाला मुख्य आरोपित है। पशु तस्करी के मामले में सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किए गए इनामुल भी इस गतिविधि में शामिल था। हालांकि उसे सीबीआई की विशेष अदालत से जमानत मिल चुकी है। इनामुल के लोग यह सुनिश्चित करते थे कि कोयले की आसानी से तस्करी हो। इस बीच, कुछ दिनों पहले कोलकाता पुलिस ने सीए फर्म के मालिक गोविंद अग्रवाल को गिरफ्तार किया। जांच के अनुसार, गोविंद अग्रवाल ने लाला और इनामुल के काले धन को सफेद किया। सीबीआई को उससे संबंधित कुछ दस्तावेज भी मिले हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − sixteen =