कैलाश विजयवर्गीय की चुनाव आयोग से मांग- बंगाल में अभी से तैनात हो केंद्रीय बल

13/12/2020,3:51:37 PM.

 

कोलकाता: भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव व बंगाल के केंद्रीय प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने चुनाव आयोग से बंगाल में आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए अभी से ही राज्य में केंद्रीय बलों की तैनाती की मांग की है।

विजयवर्गीय रविवार को बीरभूम जिले स्थित शांति निकेतन के विश्वभारती विश्वविद्यालय पहुंचे और विश्वविद्यालय के कुलपति विद्युत मुखर्जी से मुलाकात करने के बाद पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे। विजयवर्गीय के साथ भाजपा के राष्ट्रीय सचिव अनुपम हाजरा भी थे।

विजयवर्गीय ने पत्रकारों से कहा कि ममता बनर्जी की राजनीतिक जमीन खिसक रही है। हिंसा के बल पर फिर से कुर्सी प्राप्त करना चाहती हैं। बंगाल के संस्कार और संस्कृति में कहीं भी आतंक और भय नहीं है।

उन्होंने कहा कि हम चुनाव आयोग से प्रार्थना करेंगे कि लोग निर्भीकता से वोट डाल सकें और आतंक और हिंसा की राजनीति समाप्त हो। इसलिए अभी से केंद्रीय बल की तैनाती की जाए।

उन्होंने कहा,”जिस प्रकार से प्रत्येक दिन भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्याएं हो रही हैं, यह स्थिति चिंताजनक है। कल ही हालीशहर में भाजपा के जनसंपर्क अभियान” ऑर नॉय अन्याय” का प्रचार करने गए भाजपा कार्यकर्ता की निर्ममता से हत्या कर दी गई। उन्होंने कहा कि इससे पहले नड्डा के काफिले पर हम किया गया। भाजपा के कई नेताओं की गाड़ियों को तोड़ डाला गया। मुझे भी चोट आईं। ऐसी स्थिति में बंगाल में निष्पक्ष चुनाव की कल्पना ही नहीं की जा सकती है। पुलिस भी पूरी तरह से टीएमसी से मिली हुई है और टीएमसी के कैडर की तरह व्यवहार कर रही है। इसलिए बंगाल में स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए यह जरूरी है कि चुनाव आयोग अभी से ही केंद्रीय बल की तैनाती करे, ताकि आम लोगों व मतदाताओं में विश्वास पैदा हो।”

भाजपा की बनेगी सरकार
उन्होंने कहा कि, “ममता जी व टीएमसी के गुंडों के अत्याचार के बावजूद भाजपा कार्यकर्ता पूरी निडरता से काम कर रहे हैं। जनता टीएमसी के अत्यातार से त्रस्त है और लोगों में रोष है। उन्होंने दावा किया कि अगले वर्ष विधानसभा चुनाव में बंगाल में पूर्ण बहुमत से भाजपा की सरकार बनेगी और ममता की छुट्टी तय है।

उल्लेखनीय है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 19 और 20 दिसम्बर को बंगाल दौरे पर आ रहे हैं। शाह का शांति निकेतन भी जाने का कार्यक्रम है।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 − one =