गांगुली पर राजनीति में आने का कोई दबाव नहीं, भाजपा में आएंगे तो स्वागत होगा: अरविंद मेनन

06/01/2021,9:55:35 PM.

कोलकाताः  हार्ट अटैक की वजह से दक्षिण कोलकाता के वुडलैंड अस्पताल में भर्ती भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष और टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को लेकर राजनीतिक अटकलों का बाजार गर्म है। एक बार फिर गांगुली के भाजपा में शामिल होने की चर्चाएं तेज हो गईं हैं। आज बंगाल भाजपा के सह प्रभारी अरविंद मेनन के ताजा बयान ने इस चर्चा को और बल मिला है।

मेनन बुधवार को वह वर्धमान जिले के कटवा में चाय पर चर्चा कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहुंचे थे। यहां जब मेनन से सौरव गांगुली के भाजपा में शामिल होने अथवा उन पर राजनीति में शामिल होने का कोई दबाव बनाने के बारे में पूछा गया है तो मेनन ने कहा कि सौरव गांगुली बंगाल के शेर हैं। उन पर राजनीति में शामिल होने का कोई दबाव नहीं है। हालांकि उन्होंने जोड़ा कि अगर गांगुली भाजपा में शामिल होते हैं तो उनका खुले दिल से स्वागत होगा।

उल्लेखनीय है कि गत शनिवार को हार्टअटैक के बाद उन्हें दक्षिण कोलकाता के वुडलैंड अस्पताल में भर्ती किया गया है। उनसे मिलने पहुंचे माकपा विधायक अशोक भट्टाचार्य ने दावा किया था कि गांगुली पर राजनीतिक दबाव था, जिसकी वजह से उनकी सेहत बिगड़ी है। हार्ट अटैक से कुछ दिन पहले सौरव गांगुली कोलकाता स्थित राजभवन में गए थे और राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात की थी। उसके ठीक दूसरे दिन वह दिल्ली में दिवंगत केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के नाम पर बने स्टेडियम के उद्घाटन में पहुंचे थे, जहां केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से उनकी मुलाकात हुई थी। इसके बाद राज्य की राजनीति में अटकलें तेज हो गयी थीं कि गांगुली की नज़दीकियां भाजपा से बढ़ रही हैं और वे भाजपा में शामिल हो सकते हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

9 − seven =