जितेंद्र तिवारी को बीजेपी में शामिल कराने के पक्ष में नहीं बाबुल

17/12/2020,9:36:19 PM.

आसनसोलः पिछले तीन दिनों से जितेंद्र तिवारी मीडिया की सुर्खियां में बने हुए हैं। गुरुवार को उन्होंने नगर निगम के प्रशासक पद के साथ ही तृणमूल कांग्रेस के जिला अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। इससे उनके बीजेपी को ज्वाइन करने का रास्ता साफ हो गया है। बीजेपी में शामिल होने जा रहे शुभेंदु अधिकारी के साथ जितेंद्र तिवारी की बुधवार शाम को दुर्गापुर के कांकसा में बैठक हुई थी। इससे साफ हो गया था कि जितेंद्र बीजेपी में शामिल हो रहे हैं। लेकिन इधर उनके रास्ते में बाबुल सुप्रीयो आ गये हैं। बाबुल ने एक फेसबुक पोस्ट कर कहा है कि उनके बारे में गलत अफवाहें फैलाईं जा रही है कि मैंने जितेंद्र तिवारी को बीजेपी में शामिल कराने के लिए अंदर ही अंदर सेटिंग की है। यह पूरी तरह से गलत है। बल्कि मेरा कहना है कि चुनाव के दौरान आसनसोल में बीजेपी कार्यकर्ताओं पर काफी हमले हुए थे। उन्हें प्रताड़ित किया गया था। और ये सब जितेंद्र तिवारी के नेतृत्व में ही हुआ था। इसलिए वह नहीं चाहते हैं कि जितेंद्र तिवारी हमारी पार्टी में आएं। मैं पार्टी के वरिष्ठ नेताओं तक तक ये बातें पहुंचाने की कोशिश करूंगा कि कोई टीएमसी का कोई ऐसा नेता हमारी पार्टी में ना आए जो बीजेपी कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित करने में शामिल रहा हो।

इधर आसनसोल के दौरे पर पार्टी के कार्यक्रम में शामिल होने आईं बीजेपी की महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष अग्नि मित्रा पाल भी जितेंद्र तिवारी को लेकर सकारात्मक नहीं हैं। उन्होंने भी कहा कि आसनसोल में भाजपा कार्यकर्ताओं पर हुए हमले में जितेंद्र तिवारी का समर्थन था। उनके पार्टी में आने से पार्टी के कार्यकर्ता हताश होंगे। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि जितेंद्र को पार्टी में लेना और नहीं लेने का फैसला वरिष्ठ नेताओं का होगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 − nine =