टीएमसी की मदद से रोहिंग्या राज्य में प्रवेश कर रहे हैं : दिलीप

15/12/2020,8:37:51 PM.

 

कोलकाता: भारतीय जनता पार्टी की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने मंगलवार को सत्तारूढ़ पार्टी टीएमसी पर बड़ा आरोप लगाया है।

मालदा के मानिकचक में एक सभा को संबोधित करते हुए घोष ने कहा कि बांग्लादेशी और रोहिंग्या राज्य सत्ताधारी पार्टी की मदद से राज्य में प्रवेश कर रहे हैं। तृणमूल वोट बैंक के लिए बारूद का ढेर बना रही है।” घोष ने कहा कि तृणमूल ने बंगाल में पंचायत चुनाव के दौरान हिंसा कर मतदान करने की अनुमति नहीं दी। सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ता मारे गए हैं। लोगों ने अपना जवाब लोकसभा वोट में दे दिया है।

बैठक के बाद पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने रोहिंग्या शरणार्थी समस्याओं और घुसपैठ में टीएमसी मदद के अपने पुराने आरोपों को दोहराया। उनके अनुसार, पूरा देश उग्रवादी मुक्त हो गया है। मिलिटेंट गतिविधियां बंद हो गई हैं। क्योंकि, केंद्र सरकार सख्ती कर रही है। लेकिन बंगाल आतंक की चपेट में है। घोष ने कहा, “लाखों रोहिंग्या बांग्लादेश से आ रहे हैं। उन्हें शरण देने की व्यवस्था की गई है। इसलिए जब पूरे भारत में कोई उग्रवाद नहीं हैं, तब पश्चिम बंगाल में उग्रवादी और आतंकवादी पकड़े जा रहे है। ” उन्होंने मंगलवार को सभा स्थल से पशु तस्करी के मुद्दे पर भी हमला बोलते हुए कहा, “मवेशी तस्करी लंबे समय से एक बड़ी समस्या रही है। इसमें हजारों करोड़ रुपये का लेन-देन हुआ। मालदा इसमें एक बड़ा गलियारा है। पिछले कुछ महीनों में, केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय ने पशु तस्करी को कम करने और दोषियों को पकड़ने के लिए कार्रवाई की है।
दिलीप ने कहा, “दुआरे सरकार का कोई लाभ नहीं है, सरकार यमराज के दरवाजे पर चली गई है।” उन्होंने आरोप लगाया कि तृणमूल ने केंद्रीय परियोजना से पैसा लूटा है। ममता के रिश्तेदारों ने अम्फन के मुआवजे के पैसे का घोटाला किया है। सभा में पार्टी के राज्य सचिव सायंतन बसु, जिला अध्यक्ष गोविंदा मंडल और अन्य नेता उपस्थित थे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eight − five =