दिलीप घोष ने कहा- इराक और ईरान जैसी हो गयी है कोलकाता की हालत

16/12/2020,6:41:13 PM.

 

 

कोलकाताः भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने राजधानी कोलकाता की तुलना आतंकवाद प्रभावित इराक और ईरान से की है। बुधवार को वे कोलकाता के बउबाजार इलाके में चाय पर चर्चा कार्यक्रम में शामिल हुए थे। इसी दौरान उन्होंने कहा कि कोलकाता में आतंक का राज है। हर तरफ डर पसरा हुआ है।

मार्च महीने के अंत में कोलकाता नगर निगम में प्रस्तावित चुनाव को लेकर उन्होंने सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर मुख्यमंत्री की हिम्मत है तो राज्यभर की मियाद खत्म हो चुकी नगर पालिकाओं में चुनाव कराएं। उन्होंने कहा कि एक साल से भी अधिक समय हो गया। सभी नगर पालिकाओं में चुनाव लंबित हैं। जब कश्मीर और हैदराबाद में चुनाव हो सकता है तो बंगाल में क्यों नहीं होगा? उन्होंने कहा कि अच्छी बात है कि लोकसभा और विधानसभा का चुनाव केंद्रीय चुनाव आयोग के हाथ में हैं।

अगर ममता बनर्जी के हाथ में होता तो वह विधानसभा का चुनाव भी नहीं होने देतीं। मुख्यमंत्री की ओर से स्वास्थ्य साथी कार्ड को लेकर बार-बार किए जा रहे बड़े-बड़े दावे पर भी कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि इस कार्ड को लेकर किसी अस्पताल में जाने पर इलाज नहीं मिलने वाला है। डॉक्टर कहेंगे कि यहां से चले जाओ।

उन्होंने कहा कि बंगाल में आलू का उत्पादन पर्याप्त होता है। राज्य सरकार किसानों से पांच रुपये प्रति किलो के हिसाब से आलू खरीदती है और 48 प्रति किलो के हिसाब से बाजार में बिक रहा है। पुलिस प्रशासन की भूमिका को लेकर भी उन्होंने सत्तारूढ़ पार्टी पर सवाल खड़ा किया। उन्होंने कहा कि बंगाल में पुलिस प्रशासन तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ता के तौर पर काम कर रहे हैं। सरकार बदलने पर इनका डिमोशन होगा।

इस बारे में प्रतिक्रिया के लिए जब कोलकाता नगर निगम के निवर्तमान मेयर और वर्तमान प्रशासक फिरहाद हकीम से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि कोलकाता नगर निगम में चुनाव का नियम है। उसी के मुताबिक वोट होगा।
उल्लेखनीय है कि अप्रैल-मई में विधानसभा का चुनाव होना है। उसके पहले राज्य में सत्तारूढ़ पार्टी और विपक्षी भाजपा के बीच वाक युद्ध चरम पर है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × four =