नड्डा के काफिले पर हमले की शाह ने की निंदा, गृह मंत्रालय ने बंगाल सरकार से रिपोर्ट तलब की

10/12/2020,6:52:44 PM.

नई दिल्ली (एजेंसी)। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हमले की निंदा की है। गृह मंत्रालय ने बंगाल सरकार से जेपी नड्डा की सुरक्षा में चूक के मुद्दे पर बंगाल सरकार के रिपोर्ट भी तलब की है।

देशव्यापी संपर्क के लिए 120 दिन की यात्रा पर निकले भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष इन दिनों पश्चिम बंगाल में हैं। वे सब तरह की चुनौतियों के बावजूद चौबीस परगना जिले में आयोजित पार्टी के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए जा रहे थे। इस दौरान दौरान डायमंड हार्बर इलाके में जेपी नड्डा के काफिले पर असामाजिक तत्वों ने हमला कर दिया। भारी मात्रा में फेंके गए पत्थरों से उनके काफिले में शामिल कई कारों के शीशे टूट गए। उनके साथ चल रहे राज्य प्रभारी और पार्टी महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय की कार भी क्षतिग्रस्त हो गई। जेपी नड्डा की कार बुलेट प्रूफ थी इसलिए वे हमले में बाल-बाल बच गए।

इस घटना की निंदा करते हुए अमित शाह ने ट्वीट कर कहा, ”आज बंगाल में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा जी के ऊपर हुआ हमला बहुत ही निंदनीय है, उसकी जितनी भी निंदा की जाए वो कम है। केंद्र सरकार इस हमले को पूरी गंभीरता से ले रही है। बंगाल सरकार को इस प्रायोजित हिंसा के लिए प्रदेश की शांतिप्रिय जनता को जवाब देना होगा।”

शाह ने कहा, ”तृणमूल शासन में बंगाल अत्याचार, अराजकता और अंधकार के युग में जा चुका है। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के राज में पश्चिम बंगाल के अंदर जिस तरह से राजनीतिक हिंसा को संस्थागत कर चरम सीमा पर पहुंचाया गया है, वो लोकतांत्रिक मूल्यों में विश्वास रखने वाले सभी लोगों के लिए दुखद भी है और चिंताजनक भी।”

इससे पहले, पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने जेपी नड्डा की सुरक्षा में चूक का आरोप लगाया। घोष का कहना है कि जेपी नड्डा के कार्यक्रम में पुलिस की मौजूदगी नहीं थी। उन्होंने इस लापरवाही की शिकायत गृहमंत्री अमित शाह और प्रशासन से भी की। गृह मंत्रालय के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक दिलीप घोष के आरोपों को गंभीरता से लेते हुए भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा की सुरक्षा में लापरवाही के मसले पर पश्चिम बंगाल सरकार से रिपोर्ट मांगी गई है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *