नड्डा के काफिले में हमले पर बंगाल सरकार की प्रतिक्रिया : भाजपा ने उकसाया, होगी जांच

10/12/2020,7:55:39 PM.

कोलकाताः भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हुए हमले को लेकर पश्चिम बंगाल सरकार ने रुख स्पष्ट किया है। ममता कैबिनेट में मंत्री सुब्रत मुखर्जी ने कहा कि एक दिन पहले ही नड्डा ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के विधानसभा क्षेत्र भवानीपुर में जान-बूझकर उकसावे वाला भाषण दिया था। लोगों ने इसे पसंद नहीं किया। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि उनके काफिले में हमले की जांच होगी। अगर कोई दोषी पाया जाता है तो सरकार उसके खिलाफ कार्रवाई करेगी।

बुधवार को मुख्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र में नड्डा की सभा को गैरजरूरी करार देते हुए सुब्रत मुखर्जी ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य के साथ भी तृणमूल का बहुत विरोध था लेकिन कभी भी हमलोगों ने उनके घर के सामने जाकर रैली, सभा या नाच गाना नहीं किया। यह अप्रिय है।

नड्डा के काफिले में हमले को लेकर भाजपा पर ही साजिश रचने का आरोप लगाते हुए सुब्रत ने कहा कि तृणमूल सरकार को बदनाम करने के लिए ही हमला करवाया गया होगा। सस्ती लोकप्रियता हासिल करने की कोशिश हो रही है। नड्डा की इस पूर्व परिकल्पित योजना की मैं निंदा करता हूं। भाजपा के शीर्ष नेताओं की गाड़ी पर हुए हमले को लेकर सुब्रत ने कहा कि भाजपा नेता खुद ही अपनी गाड़ी तोड़ सकते हैं। इसमें चकित होने की कोई बात नहीं है।

हमले का आरोप तृणमूल कांग्रेस पर लगाने के संबंध में जवाब देते हो सुब्रत ने कहा कि गुरुवार को हमारी पहले से घोषित सभा उस जगह पर थी जहां नड्डा कार्यक्रम में जा रहे थे। वहां राज्य सरकार के 10 वर्षों का रिपोर्ट कार्ड पेश किया जाना था लेकिन जब पता चला कि वहां नड्डा भी जा रहे हैं तो हमलोगों ने अपने कार्यक्रम को सीमित कर दिया था। भाजपा के लोग तमाम तरह का वीडियो सोशल साइट पर डालकर दुष्प्रचार कर रहे हैं। यह पूरी तरह से पूर्व नियोजित तरीके से हमले किए गए हैं। भाजपा के उत्तर बंगाल में उत्तरकन्या अभियान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि वहां भी मिनी सचिवालय घेराव के दौरान भाजपा के कार्यकर्ता अपने ही गाड़ी को तोड़ते हुए नजर आए थे और यहां भी उसी तरह की बात हुई होगी। सरकार जांच कर रही है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seven + nine =