नवान्न में बैठक से पहले पूर्व रेलवे ने ट्रेन चलाने के लिए भेजी चिट्ठी

02/11/2020,6:00:09 PM.

 

कोलकाताः राज्य में रेल चलाने के बारे में निर्णय लेने के लिए रेलवे और राज्य ने आज राज्य सचिवालय नवान्न में बैठक थी। हालांकि इसके पहले ही पूर्व रेलवे ने राज्य को एक पत्र भेज यह बता दिया है कि स्वच्छता के तमाम नियमों के अनुपालन के साथ स्थानीय ट्रेनें चलने के लिए तैयार हैं। उन्होंने दावा किया कि इससे पहले भी राज्य को इस मामले में पत्र भेजा गया था।

पूर्व रेलवे ने अनुरोध किया है कि राज्य पुलिस के प्रतिनिधि नवान्न के बैठक में उपस्थित हों। वहीं राज्य पुलिस के महानिदेशक को बैठक में उपस्थित रहने का अनुरोध किया गया है। क्योंकि, बदली हुई स्थिति में पश्चिम बंगाल में रेल यात्रियों की संख्या आम दिनों की तुलना में बहुत कम है। क्योंकि बीते शनिवार को स्पेशल ट्रेन में चढ़ने को लेकर आम यात्रियों में जो स्थिति देखी गई, उसे देखते हुए उनकी सुरक्षा के लिए इंतजाम करना होगा।

लोकल ट्रेनों को चालू करने को लेकर रेल और राज्य के बीच बैठक के पूर्व हुगली के विभिन्न स्टेशनों पर विरोध प्रदर्शन किया गया। यात्रियों ने सोमवार सुबह लगभग 8 बजे वैद्यबाटी स्टेशन पर ट्रेन को रोक दिया और कहा कि आम लोगों को विशेष ट्रेन में चढ़ने की अनुमति दी जाए। इसके अलावा, वैद्यबटी स्टेशन के पास सड़क भी अवरुद्ध कर दिया गया। घटनास्थल पर भारी पुलिस बल को तैनात किया गया। हालांकि लोगों के विरोध के चलते स्टाफ स्पेशल ट्रेन नहीं चल सकीं।

विरोध का यह नजारा ना केवल वैद्यबाटी बल्कि रिसड़ा और शेवड़ाफुली स्टेशनों पर भी देखा गया। राज्य सरकार सूत्रों के अनुसार राज्य सरकार चाहती है कि स्थानीय ट्रेन चले लेकिन कुछ जरूरी नियमों को माना जाए।
जैसे सरकार चाहती है कि फिलहाल लोगों की आवश्यकता को देखते हुए लोकल ट्रेनें केवल कार्यालय आने-जाने के समय ही चलाई जाएं। वहीं कौन सी ट्रेनें सुबह में और कौन सी दोपहर में चलेगी और किन मार्गों पर चलेंगी, कौन सी ट्रेन किस स्टेशन पर ठहरेंगी, किस ट्रेन में कौन सफर कर सकता है, मेट्रो की तरह ई-पास की व्यवस्था हो या नहीं समेत कई प्रकार के सवालों पर राज्य सरकार बैठक में चर्चा करेगी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

15 + seven =