नेशनल शूटर और दिवंगत दिग्विजय सिंह के बेटी श्रेयसी सिंह भाजपा में शामिल

04/10/2020,6:42:01 PM.

– बिहार विधानसभा चुनाव में बांका अथवा अमरपुर से शुरू करेंगी चुनावी पारी

नई दिल्ली (एजेंसी)। पूर्व केंद्रीय मंत्री व बिहार के वरिष्ठ नेता रहे स्व. दिग्विजय सिंह की पुत्री व अर्जुन पुरस्कार विजेता नेशनल शूटर श्रेयसी सिंह ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सदस्यता ग्रहण कर ली। बिहार विधानसभा चुनाव में उन्हें उम्मीदवार बनाया जाना तय है। समझा जा रहा कि वह राज्य की बांका या अमरपुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के टिकट पर चुनाव मैदान में उतरेंगी।

भाजपा मुख्यालय में राष्ट्रीय महासचिव व बिहार के प्रभारी भूपेंद्र यादव और अरुण सिंह ने श्रेयसी सिंह को प्राथमिक सदस्यता की पर्ची और अंगवस्त्र देकर पार्टी में शामिल कराया। इस दौरान मंच पर श्रेयसी की माता पुतुल कुमारी सिंह भी उपस्थित रहीं। यादव ने कहा कि निशानेबाजी में विश्व पटल पर देश और बिहार का नाम रौशन करने वाली श्रेयसी सिंह बिहार की जनता की सेवा के लिये आज भाजपा से जुड़ीं हैं। उन्होंने कहा कि श्रेयसी बिहार की पहली बेटी हैं जिनको उनके उत्कृष्ट कार्य के लिये अर्जुन पुरस्कार प्रदान किया गया।अब वह राजनीति में भी अपनी अलग छाप छोड़ेंगी।

श्रेयसी ने कहा कि वह भाजपा की नीति और रीति से प्रभावित हैं। वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत अभियान से उत्साहित हैं और खासकर बिहार के युवाओं को इससे जोड़ने का काम करेंगी और आत्मनिर्भर बिहार के लिये प्रधानमंत्री के नेतृत्व में काम करेंगी। श्रेयसी ने कहा कि वह अपने पिता स्व दिग्विजय सिंह के सपनों को साकार करने का काम करूंगी। श्रेयसी सिंह ने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके कार्यों से प्रभावित है और इसलिए उन्होंने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है। पार्टी जो भी दायित्व सौंपेगी उसका ईमानदारी से वह पालन करेंगी। श्रेयसी की माता पुतुल कुमारी भी भाजपा के टिकट पर लोकसभा में बांका संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं। 2019 लोकसभा चुनाव में पार्टी से टिकट न मिलने पर वह निर्दलीय उम्मीदवार मैदान में थीं, जिस कारण उन्हें 6 वर्षों के लिए पार्टी से निलंबित कर दिया गया।

उल्लेखनीय है कि श्रेयसी सिंह ने ऑस्ट्रेलिया में वर्ष 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। स्कॉटलैंड में वर्ष 2014 के कामनवेल्थ में उन्होंने रजत पदक हासिल किया था। उन्हें वर्ष 2018 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 + 9 =