न्यूज प्रहर 21-09-2020

21/09/2020,5:05:40 PM.

-कृषि बिल के विरोध में सड़क पर उतरी सीपीएम

-बांकुड़ा में निकाला जुलूस, सुजन चक्रवर्ती हुए शामिल

संसद में कृषि बिल पारित हो गया है। लेकिन सीपीएम, टीएमसी, कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दलों ने इसका विरोध किया है। सोमवार को विपक्षी सांसदों ने संसद परिसर में धरना दिया। कृषि बिल को पारित कराने के तरीकों को संसद की हत्या बताया है। वहीं इधर सड़क पर इसके विरोध में सीपीएम उतर गई है। सोमवार को सीपीएम ने कृषि बिल समेत अन्य मुद्दों को लेकर बांकुड़ा के बड़जोड़ा में जुलूस निकाला। जुलूस में बड़ी संख्या में सीपीएम समर्थक शामिल हुए। इस जुलूस का नेतृत्व सीपीएम के वरिष्ठ नेता सुजन चक्रवर्ती। उन्होंने राज्यसभा में जिस तरह से कृषि बिल को पारित किया गया, उसकी निंदा की और कहा कि यह लोकतांत्रिक पंरपराओं के खिलाफ काम हुआ है……बाइट सुजन चक्रवर्ती

वरिष्ठ माकपा नेता एक सवाल के जवाब में कहा कि पश्चिम बंगाल की सरकार राज्य में आतंकियों की घुसपैठ करने और अपना अड्डा बनाने पर ठीक से ध्यान नहीं दे रही है। इससे राज्य को खतरा बढ़ रहा है ——-बाइट सुजन चक्रवर्ती


आसनसोल के चांदमारी इलाके में ट्रांसफॉर्मर में लगी आग

-सब्जी बाजार होने के कारण मची अफरा-तफरी

ट्रांसफार्मर के जरिये बिजली की सप्लाई होती है लेकिन कभी-कभी यह ट्रांसफार्मर आग का गोला बन जाता है। कुछ ऐसी ही घटना आसनसोल रेलपाल के चांदमारी इलाके के नया मुहल्ला में हुई है। सोमवार की सुबह यहां के एनआर रोड के किनारे लगाए गए एक ट्रांसफॉर्मर में आग लग गई। देखते-देखते आग तेज हो गई।..पहले स्थानीय लोगों ने आग बुझाने की कोशिश की।…इस बीच दमकल विभाग और पुलिस को भी खबर दे दी गई।.. दमकलकर्मी अपने इंजनों के साथ मौके पर पहुंचे और आग पर काबू पाने की कोशिश की.. ट्रांसफॉर्मर में आग लगने की घटना से इलाके में अफरा-तफरी मच गई।.. दरअसल जहां आग लगी थी वह एक भीड़-भाड़वाला सब्जी बाजार था…सड़क के दोनों किनारे दुकानें थीं। और सब्जी बेचने वाले बैठते हैं….आग लगने के बाद सभी अपनी-अपनी दुकानें छोड़ कर दूर चले गए।….इलाके के लोगों के लिए यह अच्छी बात रही कि आग लगने की वजह से ट्रांसफॉर्मर में ब्लास्ट नहीं हुआ…अगर ऐसा तो घनी आबादी होने के कारण बड़ी दुर्घटना हो सकती थी….बिजली विभाग के कर्मचारियों ने आग बुझने के बाद मरम्मत का काम शुरू किया जिससे इलाके में कई घंटे तक बिजली गुल रही …—-इधर इस घटना के बाद इलाके के लोगों में बिजली और दमकल विभाग के प्रति गुस्सा देखा गया……—बाइट

 

नया महल्ला


जितेंद्र तिवारी

Time and again we have to remind

and his party that India is not an elected autocracy, it is a parliamentary democracy. The BJP has crossed its limits in mocking the Parliament. Every Citizen needs to stand up for democracy, before its too late! #BJPKilledDemocracy

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − sixteen =