प्रणव मुखर्जी की अवस्था संकटजनक बरकरार, बेटे को लौट आने का भरोसा

16/08/2020,4:33:36 PM.

कोलकाताहिंदी.कॉम

कोलकाताः दिल्ली के सेना अस्पताल में भर्ती पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी  जीवन और मौत की लड़ाई लड़ रहे हैं। अभी भी उनकी अवस्था संकटजनक बनी हुई है। वे वेंटिलेटर के सहारे हैं।

पूर्व राष्ट्रपति गत नौ अगस्त को अपने घर के बाथरूम में गिर गए थे। दूसरे दिन उन्हें कुछ न्यूरो समस्याएं दिखाई दी थीं। उन्हें दिल्ली के आर्मी अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने पाया कि उनके मस्तिष्क में चोट लगने से खून जम गए हैं। अस्पताल में भर्ती होने के दौरान ही उनका कोविड टेस्ट किया गया था जिसमें पॉजिटिव पाए गए थे। गंभीरता को देखते हुए डॉक्टरों ने उनके मस्तिष्क का ऑपरेशन किया था। तब से वह वेंटीलेटर पर रखे गए हैं। तीन दिन पहले डॉक्टरों ने कहा था कि वह गंभीर रूप से कोमा में चले गए हैं।

हर दिन उनके संबंध में डॉक्टर अपनी बुलेटिन जारी कर उनकी स्थिति की जानकारी देते हैं। रविवार को अस्पताल ने अपने बुलेटिन में कहा कि प्रणव मुखर्जी की शारीरिक अवस्था में अभी कोई परिवर्तन नहीं हुई है। उनके वाइटल व क्लिनिकल पैरामीटर स्थिर हैं। अभी भी वे वेंटिलेटर पर रखे गए हैं। पूर्व राष्ट्रपति कई अन्य रोगों से भी पीड़ित हैं। अस्पताल के विशेषज्ञ चिकित्सक उन पर नजर रखे हुए हैं।

वहीं प्रणव मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी ने भी आज ट्वीट कर अपने पिता के बारे में जानकारी दी है। उन्होंने कहा है कि कल मैंने अस्पताल में जाकर पिता को देखा था। भगवान की दया और आप सभी की दुआओं की वजह से वे पहले से बेहतर और स्थिर हैं। उनके सभी वाइटल पैरामीटर स्थिर हैं और इलाज से फायदा मिल रहा है। हमें विश्वास है कि वह जल्द ही हम सभी के बीच होंगे।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five − 2 =