बंगाल की सत्ता पर नजर, भाजपा ने मुकुल राय को बनाया राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

26/09/2020,9:11:28 PM.

कोलकाताहिंदी.कॉम

कोलकाताः कुछ समय पहले बंगाल की सियासी गलियारे में कहा जा रहा था कि तृणमूल कांग्रेस को छोड़ भाजपा का दामने थामने वाले मुकुल राय को पार्टी तवज्जो नहीं दे रही है। लेकिन अब यह अफवाह कोरी साबित हुई है। अगले साल होने वाले बंगाल चुनाव को देखते हुए पार्टी ने राय को अपने बड़े नेताओं वसुंधरा राजे, रमन सिंह जैसों की पांत में बैठा दिया है।

भाजपा द्वारा पार्टी के नए संगठन को लेकर विज्ञप्ति जारी की गई है। इसमें बंगाल में पिछले लोकसभा चुनाव में पार्टी को 18 सीटें जीताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले मुकुल राय को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद दिया गया है। पश्चिम बंगाल से वे पहले पार्टी नेता हैं जिन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जैसे महत्वपूर्ण पद दिया गया है। वहीं राष्ट्रीय सचिव रहे राहुल सिन्हा का पर कतर दिया गया है। उनसे सचिव का पद छिन लिया गया है और फिलहाल पार्टी में  कोई पद नहीं दिया गया है। उनकी जगह मुकुल राय के नजदीकी अनुपम हाजरा, जो तृणमूल कांग्रेस से ही आए थे, को राष्ट्रीय सचिव बनाया गया है। बंगाल से एक पद राष्ट्रीय संगठन में राजू बिष्ट को मिला है। उन्हें राष्ट्रीय प्रवक्ता का पद दिया गया है।

मुकुल राय एक समय तृणमूल सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के काफी करीबे थे। तृणमूल कांग्रेस में रहते हुए पार्टी का संगठन पूरे राज्य में मजबूत करने में बड़ी भूमिका निभाई थी। लेकिन सारदा चिटफंड कांड की जांच के दौरान वह ममता से दूर होते गए और ममता भी उनसे दूरी बनाने लगीं। आखिर मुकुल राय ने नवंबर, 2017 में भाजपा का दामन थाम लिया था। तब से पार्टी ने उन्हें काफी महत्व दिया है। हालांकि बंगाल प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष के साथ उनके मतभेद की खबरें आती रही हैं।बावजूद इसके अगले विधानसभा चुनाव को देखते हुए भाजपा नेतृत्व ने मुकुल राय को महत्व देते हुए उपाध्यक्ष पद का इनाम दिया है। हालांकि 2018 में हुए पंचायत चुनाव और 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को शक्तिशाली बनाने में बड़े योगदान देने के बावजूद मुकुल राय को कोई महत्वपूर्ण पद नहीं दिया गया था। बहरहाल अब उन्हें वह जगह मिली है जिसकी वह पार्टी से आशा कर रहे थे।

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाये जाने के बाद मुकुल राय ने कहा कि पार्टी ने जो उन पर विश्वास जताया है, वह उसमें खरा उतरने का प्रयास करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि आने वाले समय में बिहार में चुनाव है, उसके बाद बंगाल में चुनाव होगा। असम में भी चुनाव होगा। इन चुनावों में वे पार्टी के लिए काम करेंगे और जीत दिलाने में मदद करेंगे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 − eleven =