बंगाल के प्रमुख कोयला तस्कर लाला के आवासों और ऑफिस पर भी सीबीआई छापा

28/11/2020,7:18:09 PM.

कोलकाताः कोयला तस्करी के केंद्र रहे आसनसोल शिल्पांचल और कोयलांचल में सीबीआई द्वारा शनिवार को की गई छापेमारी से हड़कंप मचा हुआ। पश्चिम बंगाल, झारखंड समेत तीन राज्यों के 45 ठिकानों पर कोयला तस्करों के खिलाफ सीबीआई ने छापेमारी की। सीबीआई के रडार पहले से ही कोयला तस्कारों के साथ ईसीएल के बड़े अधिकारी थे। और शनिवार को इन अधिकारियों के यहां भी छापेमारी की गई है। खबर है कि सीबीआई ने ईसीएल के महाप्रबंधक ए.के धर, जे सी राय, मुख्य सुरक्षा अधिकारी तन्यम दास, कजोड़ा एरिया सुरक्षा अधिकारी देवाशीष मुखर्जी पर मामला दर्ज कर लिया है। छापेमारी के दौरान तबीयत खराब होने से अकाल मृत्यु को प्राप्त हुए कुनुस्तोरिया के सिक्योरिटी इंचार्ज धनंजय राय पर भी मामला दर्ज किया गया है। हालांकि आधिकारिक तौर पर इन मामलों की पुष्टि होनी बाकी है।

दरअसल कोयले की चोरी और तस्करी के मामले में सीबीआई ने पिछले 16 नवंबर को जांच शुरू की थी। कोयला तस्करी मामले की जांच आयकर विभाग भी कर रहा है। सीबीआई ने आयकर विभाग को एक पत्र भेजकर उनसे सभी सबूत और दस्तावेज मांगें थे। बहरहाल आयकर विभाग से मिले कागजात के आधार पर ही शनिवार की सुबह से सीबीआई की 22 टीमों ने रानीगंज, दुर्गापुर, कोलकाता, दक्षिण 24 परगना में बंगाल की 30 जगहों पर छापेमारी अभियान शुरू किया।

सीबीआई ने जहां ईसीएल अधिकारियों पर अपनी नजर तीखी कर रही है, वहीं कोयला तस्करी के किंगपीन यानी पुरुलिया के प्रमुख कोयला तस्कर अनूप माझी उर्फ लाला, जो आयकर छापेमारी के बाद से फरार है, के आवास और ऑफिस पर भी छापेमारी की है। जहां सीबीआई की एक टीम ने लाला के पैतृक निवास पुरुलिया जिले के नितुरिया के भामुरिया में छापेमारी हुई, वहीं दूसरी टीमों ने उसके कोलकाता के सॉल्टलेक स्थित आवास व ऑफिस भी छापेमारी की। सीबीआई ने लाला के शेक्सपीयर सरणी स्थित एक फ्लैट को भी सिल कर दिया है। यहां तक ​​कि लाला के रिश्तेदारों के घर भी सीबीआई द्वारा तलाशी की गई ।

यहां आपको बता दें कि मुर्शिदाबाद से उत्तर बंगाल तक कोयला तस्करी में शामिल अनूप माझी उर्फ ​​लाला मुख्य आरोपित है। पशु तस्करी के मामले में सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किए गए इनामुल भी इस गतिविधि में शामिल था। हालांकि उसे सीबीआई की विशेष अदालत से जमानत मिल चुकी है। इनामुल के लोग यह सुनिश्चित करते थे कि कोयले की आसानी से तस्करी हो। इस बीच, कुछ दिनों पहले कोलकाता पुलिस ने सीए फर्म के मालिक गोविंद अग्रवाल को गिरफ्तार किया। जांच के अनुसार, गोविंद अग्रवाल ने लाला और इनामुल के काले धन को सफेद किया। सीबीआई को उससे संबंधित कुछ दस्तावेज भी मिले हैं।

गौरतलब है कि इसी नवंबर की पांच तारीख को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बांकुड़ा के दौरे पर थे तो उसी दौरान आयकर के अधिकारियों ने बंगाल में एक साथ कोयला और गौ तस्करों के दर्जनों ठिकानों पर छापेमारी की थी। आयकर अधिकारियों ने आसनसोल के साथ ही जामुड़िया, रानीगंज, दुर्गापुर, नितुरिया समेत कोलकाता और अन्य जगहों पर छापे मारे थे। इस छापेमारी का केंद्र अवैध कोयले के बड़े तस्कर लाला था। पुरुलिया और कोलकाता उसके आवास और ऑाफिस पर छापेमारी की गई थी। इसके अलावा लाला से जुड़े शिल्पाचंल के उसके कई सहयोगियों के यहां छापेमारी की गई थी। कोयला तस्करी का मूल आरोपित लाला फिलहाल लापता है। कोलकाता, पुरुलिया, आसनसोल, दुर्गापुर में उसके आवास पर इनकम टैक्स पहले ही छापेमारी कर चुका है। शेक्सपियर सरणी सहित कई इलाकों में अनूप मांझी का घर है जहां आयकर ने छापेमारी की थी जहां से कई सारे महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद हुए हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 + 11 =