बंगाल में प्रशासन का राजनीतिकरण और राजनीति का अपराधीकरण हो गया : नड्डा

09/01/2021,9:59:09 PM.

कोलकाताः  शनिवार को एक दिवसीय दौरे पर पश्चिम बंगाल के बर्दवान जिले में पहुंचे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने दिल्ली रवाना होने से पहले देर शाम 7:45 बजे प्रेसवार्ता की। इस दौरान उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में राजनीति का अपराधीकरण और प्रशासन का राजनीतिकरण हो गया है। उन्होंने कहा कि पहली बात तो ये कि यहां कुल मिलाकर के प्रशासन का राजनीतिकरण (एडमिनिस्ट्रेशन का पॉलिटिसाइजेशन) हो गया है और दूसरा राजनीति का अपराधीकरण हो गया है। तीसरी बात कि भ्रष्टाचार का इंस्टीट्यूशनलाइजेशन (संस्थागत) कर दिया गया है। उन्होंने फिर दोहराते हुए कहा कि राज्य में भाजपा सरकार बनेगी।

दिसंबर माह की 10 तारीख को बंगाल दौरे के दौरान अपने काफिले पर हुए हमले का जिक्र करते हुए जेपी नड्डा ने कहा कि यह बहुत स्पष्ट रूप में देखने को मिलता है जब मुझे ऐसे प्रोटेक्टी‌ (सुरक्षा घेरे में रहने वाला) को प्लानिंग करके सड़क पर रोककर पॉइंट ब्लैंक रेंज से अटैक किया जाए और हमारे सहयोगियों पर जिस तरीके से अटैक किया गया यह अपने आप में इस बात को बताता है कि यहां पर लॉ एंड ऑर्डर पूरी तरह से खत्म है। आम आदमी के लिए हालात बहुत बदतर है।

300 से अधिक भाजपा कार्यकर्ताओं को उतारा गया मौत के घाट
जेपी नड्डा ने कहा कि लगभग 130 भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारियों ने अपनी जान गवाई। यह सब कुछ तृणमूल कांग्रेस के लोगों ने किया। मैंने खुद 28 सितंबर,2019 को 100 कार्यकर्ताओं का तर्पण बागबाजार घाट पर जाकर किया था। उन्होंने कहा कि पिछले 09 तारीख को मैं आया था और आज फिर 9 तारीख को आया हूं। इस एक महीने के दौरान पांच से छह कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई।
सैकत भुवाल, सुखदेव प्रमाणिक, अशोक सरकार और अमूल्य मंडल इन लोगों ने अपनी जान गंवाई हैं और यह टीएमसी के हाथों राजनीतिक द्वेष के कारण मारे गए और जो अमूल्य मंडल ने अपने बच्चे को बचाने में अपनी जान गंवाई। उन्होंने आरोप लगाया कि बंगाल के समुद्र तटीय क्षेत्रों से मछुआरों को भगाया जा रहा है। वे उत्तर प्रदेश जाकर बसने के लिए मजबूर हो रहे हैं।

किसानों को केंद्रीय मदद की राह में बाधा बन रही है ममता
केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी किसान सम्मान निधि को बंगाल में लागू नहीं करने को लेकर एक बार फिर उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर तीखा हमला बोला। नड्डा ने कहा कि ममता बनर्जी किसानों को मिलने वाली केंद्रीय मदद के बीच में बाधा बन रही हैं।
आंकड़ों का जिक्र करते हुए नड्डा ने कहा, “लगभग 26 लाख किसानों ने अपने आप को रजिस्टर कराया है जिसको ममता जी ने परमिशन नहीं दी। प्रधानमंत्री जी किसानों को सम्मान देना चाहते हैं, वह उनकी मदद करना चाहती हैं। इसके बीच में ममता जी बाधा बनकर के खड़ी हैं।
उन्होंने कहा कि इन 26 लाख किसानों के अलावा 23 से 26 लाख और ऐसे किसान हैं, जिन्हें इस सम्मान का लाभ मिलना चाहिए लेकिन ममता बनर्जी उनकी सूची नहीं दे रही हैं।

गांव-गांव जाकर किसानों से करेंगे संपर्क
इस दौरान भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि उनकी पार्टी के कार्यकर्ता गांव-गांव जाकर किसानों से संपर्क करेंगे। उन्होंने कहा, “आज हम लोगों ने कृषक सुरक्षा अभियान शुरू की है और हम सब ने शपथ ली है कि राज्य के 40 हजार ग्राम सभाओं में ग्राम सभाएं करेंगे। किसानों से एक मुट्ठी अनाज हम लेंगे। आज मैंने भी किसानों से अनाज लिया और सौगंध खाई, प्रण लिया कि हमारी सरकार आते ही आपको किसान सम्मान निधि से सम्मानित करेंगे। साथ ही किसानों को हम मुख्यधारा में आगे लाने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे।
नड्डा ने कहा कि आज मैं बर्दवान क्षेत्र में हूं। यह दो बातों के लिए जाना जाता है। एक तो राइस बॉल (चावल का कटोरा) और दूसरा इंडस्ट्रियल हब लेकिन आज पूरा बंगाल औद्योगिक तौर पर देश के 29 राज्यों में पिछड़ कर 24वें स्थान पर है। उन्होंने कहा कि आजादी के समय देश की अर्थव्यवस्था में सबसे बड़ा योगदान देने वाला बंगाल में देश की जीडीपी में महज तीन फीसदी भूमिका रह गई है।

बंगाल में होगा बदलाव बनेगी भाजपा सरकार
नड्डा ने कहा कि बंगाल बदलाव की तरफ चल पड़ा है। ममता जी के पांव के नीचे से धरती खिसक चुकी है। भाजपा की तरफ बंगाल की जनता का एकतरफा रुझान बना है। आज की रैली और रोड शो में मैंने जो उत्साह देखा, वो बंगाल के सामान्य जन का उत्साह था। बड़ी संख्या में लोग वहां पूरे रास्ते में थे। पिछले एक महीने में ही मैं बंगाल के लोगों के उत्साह में बड़ा अंतर देख रहा हूं। बंगाल में भ्रष्टाचार, कट मनी, टोलाबाजी, तुष्टीकरण ये सभी चीजें बंगाल की सरकार में हो रही हैं। उन्होंने कहा, “हमारी सरकार आते ही आयुष्मान भारत योजना पश्चिम बंगाल में लागू की जाएगी। करोड़ों परिवार यहां इस योजना के लिए पात्र हैं। दुर्भाग्य की बात है कि बंगाल के गरीब लोगों को स्वस्थ योजना का लाभ मिलने में ममता दीदी बाधा बनी हैं। बंगाल में जनता का जो विश्वास, प्रेम दिख रहा है वो भाजपा के सभी कार्यकर्ताओं को उत्साह दे रहा है। आने वाले समय में भाजपा बंगाल में 200 से ज्यादा सीटें जीत कर सरकार बनाएगी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 + 1 =