बंगाल में भाजपा पार्षद मनीष शुक्ला की हत्या से उबाल, गरमाई राजनीति

05/10/2020,10:28:26 AM.

कोलकाता उत्तर 24 परगना के बैरकपुर में भाजपा के पार्षद मनीष शुक्ला की हत्या पर राजनीति गर्मा गई है। उन्हें टीटागढ़ में अपने ऑफिस के बाहर रविवार शाम अत्याधुनिक हथियारों से मौत के घाट उतार दिया गया था। मनीष की हत्या के विरोध में भाजपा ने सोमवार को बैरकपुर में 12 का बंद बुलाया जिसका असर दिखाई दे रहा है। जगह-जगह रास्तों पर अवरोध कर किया गया। कल्याणी एक्सप्रेस वे पर भाजपा कार्यकर्ता टायर जलाकर सड़क पर बैठ गए हैं।

वहीं बैरकपुर के भाजपा सांसद अर्जुन सिंह के करीबी पार्षद मनीष शुक्ला की रविवार रात हत्या की घटना के सिलसिले में राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने सोमवार को राज्य सरकार के गृह सचिव और राज्य पुलिस के डीजी को तलब किया है। राज्यपाल पहले भी ऐसी घटनाओं पर राज्य के शीर्ष अधिकाकिरियों को तलब कर चुके हैं।

इसे लेकर भाजपा ने सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस पर हमला बोला है। भाजपा के महासचिव और प्रदेश प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने रविवार की रात ही एक वीडियो जारी कर कहा कि पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही। आज फिर भाजपा कार्यकर्ता श्री मनीष शुक्ला की तृणमूल के गुंडो नें गोली मारकर हत्या कर दी। ये घटना बैरकपुर के टीटागढ़ पुलिस स्टेशन के बाहर घटी, पर हमेशा की तरह पुलिस आंख पर पट्टी बांधे रही।

इधर भाजपा सचिव और बंगाल के सह प्रभारी अरविंद मेनन ने कहा है, “भारतीय जनता पार्टी के पार्षद मनीष शुक्ला की बैरकपुर में गोली मारकर हत्या कर दी गयी है, पश्चिम बंगाल में ममता के गुंडे एक तरफ खुलेआम हत्याओं को अंजाम दे रहे हैं वहीं दूसरी तरफ प्रशासन इन अपराधियों को संरक्षण देने का कार्य कर रहा है।”

बैरकपुर से सांसद अर्जुन सिंह ने कहा, “मेरे भाई मनीष की हत्या का तरीका, इसमें अत्याधुनिक हथियारों का इस्तेमाल इस बात को स्पष्ट करते हैं कि सबकुछ प्रशासन और पुलिस के संरक्षण में हुआ है। लक्ष्मण रेखा पार कर दी आज, अब भुगतना पड़ेगा।” पार्टी के अन्य नेताओं ने भी इसे लेकर सरकार पर सवाल खड़ा किया है। उल्लेखनीय है कि मनीष बैरकपुर में पार्टी की एक रैली में शामिल हुए थे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 4 =