बाबुल सुप्रियो ने तृणमूल नेताओं को दी चेतावनी, राज्यपाल जगदीप धनखड़ से ना लें पंगा

07/10/2020,8:58:20 PM.

आसनसोलः करीब पांच महीने बाद अपने संसदीय क्षेत्र आसनसोल लौटने के बाद केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो काफी आक्रामक तरीके से व्यस्त हैं। वह लगातार राज्य की सत्ताधारी दल तृणमूल कांग्रेस और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला कर रहे हैं। बुधवार को बाबुल सुप्रियो ने आसनसोल के धधका स्थित बीजेपी के जिला कार्यालय में एक प्रेस कांफ्रेंस कर आसनसोल संसदीय क्षेत्र में किए अपने कार्यों का रिपोर्ट कार्ड पेश किया। उन्होंने बताया कि अबतक किन इलाकों में क्या-क्या काम किया। कितने रुपये के काम किये।..लेकिन इस प्रेस कांफ्रेंस में माहौल तब गरम हो गया जब सवाल राजनीतिक और तृणमूल कांग्रेस से जुड़ा आया। बाबुल ने खास कर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की सरकार द्वारा राज्यपाल जगदीप धनखड़ की उपेक्षा करने पर तीखे हमले किये। उन्होंने तृणमूल नेताओं पर भी इसके लिए प्रहार किया।

आसनसोल के सांसद और केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल के के संवैधानिक प्रमुख हैं जगदीप धनखड़। अगर वह मुख्यमंत्री से सवाल से पूछे तो उनको जवाब देना ही चाहिए। बाबुल ने इस बात पर कड़ा एतराज जताया है कि राज्य के गृह सचिव और डीजीपी को राज्यपाल ने सुबह 10 मिलने के लिए बुलाया लेकिन दोनों नहीं पहुंचे। उनकी जगह कुछ देर बाद मुख्य सचिव अलापन बनर्जी राज्यपाल से मिलने जाते हैं। केंद्रीय मंत्री ने तृणमूल नेताओं को चेतावनी देते हुए कहा कि वे धनखड़ जी के बारे में कुछ भी बोलने में पहले सोचें। वे बहुत बड़े वकील हैं। काफी पढ़े-लिखे और जानकार हैं। वे सारे नियम-कायदे जानते हैं। वस्तुतः धनखड़ जी धाखड़ व्यक्ति हैं। मालूम हो कि राज्यपाल जगदीप धनखड़ को लेकर तृणमूल नेता काफी हमलावर रहते हैं और उन पर भाजपा की तरफ से काम करने के आरोप लगाते रहते हैं।

बाबुल ने यूपी के एक विधायक के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब के बहाने फिर से तृणमूल कांग्रेस और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि यूपी तो शासन व्यवस्था कड़ी है लेकिन बंगाल में तो उसका कोई नाम तक नहीं है। आसनसोल के सांसद और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने कहा कि आने वाला चुनाव दूसरी तरह का होगा। भले तृणमूल कितना भी दावा कर ले लेकिन वह सत्ता में आने वाली नहीं है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 5 =