बिहार के पूर्व सीएम व आठ मंत्रियों के भाग्य ईवीएम में कैद

28/10/2020,7:55:50 PM.

 

भाजपा के चार बागी नेता फंसे हैं त्रिकोणीय मुकाबले में

इमामगंज में पूर्व मुख्यमंत्री मांझी और विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी में है सीधी भिड़ंत

 

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान सम्पन्न होने के साथ ही राज्य के आठ मंत्रियों समेत राज्य के एक पूर्व मुख्यमंत्री और बिहार विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष की किस्मत ईवीएम में बंद हो चुकी है।

पहले चरण के मतदान में भाजपा के चार बागी नेताओं के भाग्य भी दांव पर लगे हैं जिन्होंने भाजपा से टिकट नहीं मिलने के बाद लोजपा का दामन थाम लिया और चुनाव मैदान में कूद पड़े। इनमें दिनारा विधानसभा सीट से भाजपा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह, सासाराम से भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय मंत्री रामेश्वर चौरसिया, पालीगंज से भाजपा की पूर्व विधायक उषा विद्यार्थी शामिल हैं।

इतना ही नहीं, गया के इमामगंज से बिहार के दो कद्दावर नेता भी एक-दूसरे के आमने-सामने हैं। यहाँ पूर्व मुख्यमंत्री व हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतनराम मांझी का सीधा मुकाबला बिहार विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी से है।

बता दें कि वर्ष 2015 के बिहार चुनाव में इमामगंज में दोनों के बीच मुकाबला हुआ था, जिसमें जीतनराम मांझी ने उदय नारायण चौधरी को दस हजार से अधिक वोट से हराया था । उधर, राज्य के जिन आठ मंत्रियों की किस्मत आज ईवीएम में बंद हुई है उनमें जहानाबाद से शिक्षा मंत्री कृष्ण नंदन वर्मा, गया नगर से कृषि मंत्री प्रेम कुमार, राजपुर (सु) से परिवहन मंत्री संतोष कुमार निराला, दिनारा में उद्योग मंत्री जय कुमार सिंह, लखीसराय से श्रम संसाधन मंत्री विजय कुमार सिन्हा, भूमि सुधार एवं निबंधन मंत्री रामनारायण मंडल और खान एवं भूतत्व मंत्री बृजकिशोर बिंद शामिल हैं। इनमें सबसे दिलचस्प मुकाबला रोहतास के दिनारा में देखने को मिला है। यहां भाजपा के बागी राजेन्द्र सिंह का सीधा मुकाबला जदयू के मंत्री जय कुमार सिंह से है।

अब देखना दिलचस्प होगा कि राजेन्द्र सिंह खुद अपनी जीत का मार्ग प्रशस्त करते हैं या फिर जय कुमार सिंह का खेल ख़राब करते हैं। बताया जा रहा है कि यहां दोनों को राजद उम्मीदवार से कड़ी टक्कर मिल रही है। इसी तरह लखीसराय में भी भाजपा कोटे से नीतीश सरकार में मंत्री बने विजय कुमार सिन्हा को भी कड़े संघर्ष से गुजरना पड़ रहा है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

8 + 18 =