बैसाखी बनर्जी ने किया दिलीप घोष को फोन : गलेगी रिश्तों पर जमी बर्फ !

23/11/2020,7:43:05 PM.

 

कोलकाता: विधानसभा चुनाव की आहट से सभी भाजपा और सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस अपनी बिसात बिछाने में लगी हैं। भाजपा ने अपने रूठों को मनाने की कवायद तेज कर रही है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के प्रयास से पार्टी के चर्चित और रूठे नेता शोभन चटर्जी को मनाने के लिए पार्टी अब बैसाखी चटर्जी को भी सक्रिय करने को तैयार हो गई है। बैसाखी ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को फोन कर रिश्तों पर जमी बर्फ गलाने का प्रयास किया है।

कोलकाता के पूर्व मेयर और ममता बनर्जी के प्रिय रहे शोभन चटर्जी को भारतीय जनता पार्टी की राज्य इकाई में सक्रिय करने के लिए पार्टी के शीर्ष नेता लगातार कोशिश कर रहे हैं। हालांकि कथित तौर पर महिला मित्र बैसाखी बनर्जी की अनदेखी की वजह से शोभन चटर्जी भाजपा में सक्रिय नहीं हो रहे हैं।

तृणमूल छोड़कर भाजपा में शामिल होने के बाद से ही वह पार्टी के किसी भी कार्यक्रम में नहीं गए हैं। यहां तक कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और जेपी नड्डा के दौरे के समय भी वह दूरी बना कर ही रहे। उन्हें मनाने के लिए गोल पार्क स्थित उनके फ्लैट पर भाजपा के सह प्रभारी अरविंद मेनन और नवनियुक्त सांगठनिक महासचिव अमिताभ चक्रवर्ती गए थे, लेकिन कोई लाभ नहीं हुआ था।

यहां तक कि भारतीय जनता पार्टी की ओर से विजया सम्मेलन में शामिल होने के लिए भी शोभन चटर्जी को आमंत्रित किया गया था लेकिन उन्होंने यह कहते हुए इसमें जाने से इनकार कर दिया था कि कार्यक्रम में बैसाखी बनर्जी को आमंत्रित नहीं किया गया है।

हालांकि बाद में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने स्पष्ट किया था कि उन्होंने बैसाखी को फोन किया था लेकिन उनका फोन स्विच ऑफ था। अब खबर है कि रविवार देर रात वैशाखी बनर्जी ने खुद ही दिलीप घोष को फोन किया था। दोनों के बीच काफी देर तक बात हुई है। प्रदेश भाजपा सूत्रों ने बताया कि इससे दोनों के रिश्ते पर जमी बर्फ पिघल रही है।

सोमवार को इस बारे में पूछने पर बैसाखी बनर्जी ने कहा कि बहुत दिनों बाद दिलीप दा से बात हुई। भाजपा में कुछ लोग हैं, जिनकी गलत बयानी की वजह से गलतफहमी पैदा होती हैं। उम्मीद है आगे हम लोग मिलजुल कर काम करेंगे। वैशाखी ने बताया कि उन्होंने दिलीप घोष को गोल पार्क स्थित फ्लैट पर मध्याह्न भोज के लिए आमंत्रित किया है। बनर्जी के इस तरह के बयान के बाद से अंदाजा लगाया जा सकता है कि शायद अब शोभन चटर्जी पार्टी में सक्रिय हो सकते हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × three =