ममता का दावा- राजनीतिक हित के लिए भाजपा लाई है पीएम किसान सम्मान निधि योजना

25/12/2020,8:24:02 PM.

कोलकाता: केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि को बंगाल में लागू नहीं करने की वजह से राज्य सरकार सवालों में है। हालांकि इस मुद्दे पर ममता बनर्जी ने शुक्रवार को भाजपा पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार की यह योजना किसानों की मदद के लिए नहीं बल्कि भारतीय जनता पार्टी के राजनीतिक हित को साधने के लिए है।
दरअसल, इस योजना के तहत केंद्र सरकार देशभर के किसानों को 12 हजार रुपये की सालाना मदद देती है। ममता बनर्जी की सरकार ने इसे बंगाल में लागू नहीं किया, जिसकी वजह से बंगाल के किसान इससे वंचित हैं। इसे लेकर भाजपा के नेता और राज्यपाल जगदीप धनखड़ लगातार आरोप लगाते रहे हैं कि राजनीतिक द्वेष की वजह से ममता ने केंद्र की योजना को बंगाल में लागू नहीं किया है जिसकी वजह से किसान इस वित्तीय मदद से वंचित हैं।
शुक्रवार को ममता ने सार्वजनिक पत्र में लिखा है कि केंद्र की योजना को बंगाल में नहीं लागू करने के भाजपा के दावे निराधार हैं। मुख्यमंत्री ने कहा है कि उन्होंने व्यक्तिगत तौर पर केंद्रीय कृषि मंत्री को दो पत्र लिखे। इसके अलावा दो दिन पहले उन्होंने मंत्री से बात भी की है। राज्य सरकार ने उन्हें पीएम किसान सम्मान निधि की धनराशि पश्चिम बंगाल सरकार के माध्यम से किसानों को देने का प्रस्ताव दिया है लेकिन वे (केंद्र सरकार) सहयोग करने से इनकार कर रहे हैं और इसके बजाय राजनीतिक लाभ के लिए दुर्भावनापूर्ण प्रचार कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि इस योजना को बंगाल में लागू नहीं करने को लेकर बंगाल सरकार पर गैर सहयोग का आरोप लगाया गया है। तथ्य यह है कि वे लोगों को आधे सच और विकृत तथ्यों के साथ गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि संघीय ढांचे के मुताबिक वह केंद्रीय योजनाओं को बंगाल में लागू करने के लिए तत्पर हैं। बशर्ते किसान सम्मान निधि का इस्तेमाल भाजपा राजनीतिक हित के लिए कर रही है। अपनी चिट्ठी में ममता ने कहा है कि बंगाल का 8000 करोड़ रुपये का जीएसटी अभी भी केंद्र के पास बकाया है। यदि वे वास्तव में राज्य के लोगों की मदद करना चाहते हैं तो जीएसटी की यह राशि राज्य को देनी चाहिए ताकि हम लोगों की जरूरतों को पूरा करने के लिए बेहतर स्थिति में आ सकें।
अपनी चिट्ठी में ममता ने कहा है कि बंगाल के लोगों की बेहतरी के लिए वह हमेशा से काम करती रही हैं और हमेशा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। मुख्यमंत्री ने कहा है कि बंगाल के लोग भाजपा के दुर्भावनापूर्ण प्रचार को समझते हैं। बंगाल को बदनाम करने की कोशिश का करारा जवाब सही समय पर जनता देगी।
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − 5 =