ममता ने दिल्ली हिंसा के लिए केंद्र को ठहराया जिम्मेदार, कृषि कानून वापस लेने की मांग की

26/01/2021,7:42:18 PM.

कोलकाताः  दिल्ली में किसान आंदोलन के दौरान अराजक तत्वों द्वारा गणतंत्र दिवस के अवसर पर आज दिल्ली की सड़कों पर मचाए गए तांडव को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार को ही जिम्मेदार ठहराया है। मंगलवार शाम मुख्यमंत्री ने ट्विटर पर इसे लेकर दो ट्वीट किये हैं।

पहले ट्वीट में ममता ने लिखा, “दिल्ली की सड़कों पर होने वाली दर्दनाक हिंसा की घटनाएं परेशान करने वाली हैं। हमारे किसान भाइयों और बहनों के प्रति केंद्र सरकार का असंवेदनशील और उदासीन रवैये को इस स्थिति के लिए दोषी ठहराया जाना चाहिए।”

अपने दूसरे ट्वीट में कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग करते हुए ममता ने लिखा, “केंद्र सरकार ने किसानों को विश्वास में लिये बगैर इन कानूनों को पारित किया और फिर पूरे भारत तथा पिछले दो महीने से दिल्ली के आसपास डेरा डालकर किसानों के विरोध के बावजूद इस हालात से निपटने में सरकार बेहद लापरवाह रही। केंद्र सरकार को किसानों के साथ तुरंत सार्थक बातचीत शुरू करनी चाहिए और घातक कृषि कानूनों को तुरंत निरस्त करना चाहिए।”

उल्लेखनीय है कि दिल्ली में आज किसान संगठनों की ओर से निकाले गए ट्रैक्टर मार्च में जबर्दस्त अराजकता हुई है। आंदोलन में शामिल लोगों ने सुरक्षाबलों पर हमले किए हैं, जिसमें 18 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। इसके साथ ही सुरक्षाबलों द्वारा की गयी बैरिकेडिंग को तोड़ने के चक्कर में ट्रैक्टर पलटने से उसमें सवार एक व्यक्ति की मौत हो गयी है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve + thirteen =