मुख्यमंत्री ने नंदीग्राम दिवस पर भूमि आंदोलन के शहीदों को दी श्रद्धांजलि

10/11/2020,11:35:26 AM.

 

कोलकाता: नंदीग्राम दिवस के मौके पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने वाम मोर्चा शासन के दौरान तीन दशकों में राजनीतिक हिंसा में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी है। इसके साथ ही उन्होंने दावा किया है कि बंगाल में अब शांति है।

मंगलवार की सुबह सीएम ने इस बारे में ट्वीट किया है। इसमें उन्होंने लिखा है, “आज नंदीग्राम दिवस 13 वीं वर्षगांठ है। नई सुबह के नाम पर यहां नरसंहार किया गया था। उन सभी लोगों को मेरी श्रद्धांजलि, जिन्होंने बंगाल में राजनीतिक हिंसा के कारण तीन दशकों में अपनी जान गंवाई। शांति की हमेशा जीत होनी चाहिए।

” सन् 1970 के बाद से लेकर कम से कम तीन दशक तक वामपंथियों ने बंगाल में शासन किया था जब अनगिनत हत्याएं हुई थीं। उल्लेखनीय है कि 2007 में पूर्व मेदिनीपुर जिले के नंदीग्राम में तत्कालीन वाम मोर्चा सरकार ने किसानों की जमीन का अधिग्रहण किया था ताकि वहां स्पेशल इकोनामिक जोन के तहत एक पेट्रोकेमिकल हब बनाया जा सके। लेकिन तत्कालीन विपक्ष की नेत्री ममता बनर्जी की अगुवाई में हजारों किसानों ने विद्रोह कर दिया था।

इसके बाद राज्य सरकार ने 2500 पुलिसकर्मियों को भेजकर जबरन जमीन का अधिग्रहण कराया था। इस दौरान पुलिस की फायरिंग में सरकारी आंकड़े के अनुसार 14 किसान मारे गए थे, जबकि सैकड़ों किसान लापता घोषित कर दिये गये थे।

इस भीषण नरसंहार की वजह से राज्य सरकार के खिलाफ लोगों में नाराजगी भर गई थी जिसके बाद 2011 में सत्ता परिवर्तन हुआ था और ममता बनर्जी की सरकार बनी थी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen − 7 =