वर्तमान चुनौतियों के लिए महत्वपूर्ण है भारत-अमेरिका साझेदारी: राजनाथ सिंह 

27/10/2020,12:08:39 PM.

 

राजनाथ ने कहा बीईसीए ​एग्रीमेंट​ से ​नए रास्ते खुलेंगे 
आज दो महान लोकतंत्रों के करीब बढ़ने का शानदार अवसर: पोम्पेओ
भारत से अपनी रक्षा और सुरक्षा साझेदारी को मजबूत किया: मार्क ​​एस्पर

 

नई दिल्ली: हैदराबाद हाउस में भारत​ और ​अमेरिका ​के बीच ‘टू प्लस टू’ वार्ता शुरू हो गई है।​ दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय बैठक चल रही है​।​ बैठक में ​​रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री एस जयशंकर, अमेरिकी विदेश मंत्री माइकल ​​पोम्पेओ और अमेरिकी रक्षा मंत्री ​​मार्क ​टी. ​​एस्पर भाग ले रहे हैं।​

​बैठक के दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ​ने कहा कि हमें खुशी है कि हमने बेसिक एक्सचेंज एंड कोऑपरेशन ​​एग्रीमेंट​ (​​बीईसीए​​ )​ पूरा कर लिया है, जिससे सूचना साझाकरण में​​ नए रास्ते खुलेंगे। हम ​अमेरिका के साथ आगे के मुद्दों पर चर्चा करने के लिए उत्सुक हैं। ​उन्होंने कहा कि हमारी अर्थव्यवस्थाओं को नुकसान हुआ है। हम उद्योगों और सेवा क्षेत्रों को पुनर्जीवित करने की कोशिश कर रहे हैं। हमारी साझेदारी वर्तमान चुनौतियों के मद्देनजर और महत्वपूर्ण हो जाती है​​। हम दोनों नियम-आधारित आदेश और लोकतंत्र में विश्वास करते हैं​​।​​

​​अमेरिकी विदेश मंत्री माइकल पोम्पेओ​ ने कहा कि ​​आज दो महान लोकतंत्रों के करीब बढ़ने का शानदार अवसर है। इस क्षेत्र में शांति और स्थिरता को बढ़ावा देने के लिए ​सुरक्षा और स्वतंत्रता के ​मद्देनजर चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के खतरों का सामना करने के लिए​​ ​आज हम चर्चा कर​ रहे हैं​​​​​।​ इसके अलावा कोविड-19 महामारी के बीच सहयोग करने के लिए हमने आज चर्चा की है।​ अमेरिकी रक्षा सचिव मार्क ​​टी. एस्परपर ने कहा कि ​​हमने विशेष रूप से पिछले वर्ष के दौरान ​​भारत के साथ अपनी रक्षा और सुरक्षा साझेदारी को मजबूत किया है जिसके दौरान हमने अपनी क्षेत्रीय सुरक्षा और सूचना साझाकरण को उन्नत किया है​​। हमारा सहयोग एक स्वतंत्र और खुले इंडो-पैसिफिक और सिद्धांतों की चुनौतियों को पूरा करता है​​।​​

​इससे पूर्व तीसरी ‘टू प्लस टू’ वार्ता के लिए भारत आये अमेरिकी रक्षा सचिव मार्क एस्पर और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बीच सोमवार को साउथ ब्लॉक में हुई द्विपक्षीय बैठक में दोनों मंत्रियों ने बेसिक एक्सचेंज एंड कोऑपरेशन एग्रीमेंट (बीईसीए) पर हस्ताक्षर किए जाने पर सहमति जताई। भारत-अमेरिका सैन्य संधि पर मंगलवार को हस्ताक्षर किए जाने हैं। दोनों देशों के रक्षा मंत्रियों के बीच करीब एक घंटे तक चली बैठक में दोनों मंत्रियों ने सैन्य सहयोग, सुरक्षा संचार प्रणाली और सूचना साझाकरण, रक्षा व्यापार और औद्योगिक मुद्दों पर सैन्य सहयोग के साथ द्विपक्षीय रक्षा सहयोग की समीक्षा की और द्विपक्षीय सहयोग को आगे बढ़ाने के तरीकों पर भी चर्चा की। बैठक में सभी स्तरों, विशेषकर सैन्य सहयोग समूह में महामारी के दौरान मौजूदा रक्षा संवाद तंत्र को जारी रखने का आह्वान किया।

‘टू प्लस टू’ वार्ता से पहले आज ही राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल ने साउथ ब्लॉक में अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ और अमेरिकी रक्षा सचिव के साथ एक एक रचनात्मक बैठक करके कई मुद्दों पर चर्चा की। सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में रणनीतिक महत्व के मुद्दों और चुनौतियों पर चर्चा हुई।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 − twelve =