शांतिनिकेतन शताब्दी समारोह से नदारद रहीं सीएम, भाजपा ने साधा निशाना

24/12/2020,5:29:36 PM.

कोलकाताः गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शांतिनिकेतन विश्वभारती विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह में भाग नहीं लेने पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भाजपा के निशाने पर आ गई हैं। इस समारोह में राज्यपाल जगदीप धनखड़ और केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक शामिल हुए थे। ।
बीजेपी ने ममता बनर्जी को निशाने पर लिया है। बीजेपी के आईटी सेल के संयोजक अमित मालवीय ने आरोप लगाया कि शताब्दी समारोह में शामिल ना होकर ममता बनर्जी ने रवींद्रनाथ काठुर का अपमान किया है।

अमित मालवीय ने गुरुवार को एक पत्र ट्वीट करते हुए लिखा कि विश्वभारती विश्वविद्यालय से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को दिसंबर की चार तारीख को अमंत्रण भेजा गया था। लेकिन गुरुदेव टैगोर के प्रति श्रद्धा से अधिक उनके लिए राजनीति महत्वपूर्ण है। इसके पहले किसी भी मुख्यमंत्री ने रवींद्रनाथ टैगोर का इस प्रकार अपमान नहीं किया। मुख्यमंत्री की यह संकीर्ण मानसिकता बंगाल को और अंधाकार में ढकेल रही है।

उधर बीजेपी के इस आरोप के बाद तृणमूल कांग्रेस ने भी पलटवार किया। तृणमूल नेता ब्रात्य बसु ने तृणमूल भवन में संवाददाताओं को संबोधित किया। यहां से उन्होंने कहा कि विश्वभारती की ओर से मुख्यमंत्री को आमंत्रण नहीं भेजा गया। ऐसे में संवाददाताओं ने प्रश्न किया कि विश्वभारती की ओर से जो पत्र भेजा गया है क्या वह फर्जी है?

ब्रात्य बसु ने उनसे बदले में सवाल किया कि क्या उस पत्र की प्राप्ति की कोई स्वीकृति थी? क्या उस पत्र की प्राप्ति के कोई दस्तावेज हैं? क्या कुलपति ने स्वयं पत्र पर हस्ताक्षर अपने ही पास रख लिया?

इस दौरान कई संवाददातओं ने दावा किया कि शताब्दी समारोह के एक दिन पहले मुख्यमंत्री को फोन कर इस बारे में जानाकरी दी गई थी। इसके जवाब में ब्रात्य बसु ने कहा कि मुख्यमंत्री को इस प्रकार से आमंत्रित नहीं किया जा सकता।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − fourteen =