सिडनी टेस्ट बिना किसी नतीजे के समाप्त, अश्विन-विहारी ने खेली साहसिक पारी

11/01/2021,6:04:23 PM.

सिडनी (एजेंसी)। रविचंद्रन अश्विन और हनुमा विहारी की साहसिक पारियों की बदौलत एक समय हार की कगार पर खड़ी भारतीय क्रिकेट टीम सिडनी में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच को ड्रा कराने में सफल रही। अश्विन और विहारी की जोड़ी ने लगभग चार घन्टे तक बल्लेबाजी कर ऑस्ट्रेलियाई टीम को जीत से दूर कर दिया। इन दोनों बल्लेबाजों ने 258 गेंद खेलकर 62 रन जोड़े। विहारी ने 161 गेंदों पर 23 रन और अश्विन ने 128 गेंदों पर नाबाद 39 रन बनाए। भारत ने अपनी दूसरी पारी में 5 विकेट खोकर 334 रन बनाए।

ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 338 रन बनाए थे,जवाब में भारतीय टीम 244 रनों पर सिमट गई थी। ऑस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी 6 विकेट पर 312 घोषित कर दी थी और भारत के सामने जीत के लिए 407 रनों का लक्ष्य रखा था।

407 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम को रोहित शर्मा और शुभमन गिल ने एक बार फिर अच्छी शुरुआत दिलाई। दोनों ने पहले विकेट के लिए 71 रन जोड़े। इसके बाद शुभमन गिल 31 रन बनाकर जोश हेजलवुड की गेंद पर आउट हो गए।

भारत के लिए दूसरी पारी में रोहित शर्मा ने 95 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। इस पारी में उन्होंने 4 चौके और 1 छक्का जड़ा है। हालांकि वे 52 रन के निजी स्कोर पर पैट कमिंस का शिकार हो गए। भारतीय टीम को तीसरा झटका कप्तान अजिंक्या रहाणे के रूप में झटका लगा जो सिर्फ 4 रन बना सके। रहाणे को नाथन ल्योन ने अपना शिकार बनाया। उनके बाद नंबर 5 पर खेलने उतरे रिषभ पंत ने चेतेश्वर पुजारा के साथ अच्छी साझेदारी की।

पंत ने पुजारा से पहले अपना अर्धशतक पूरा किया। चेतेश्वर पुजारा 170 गेंदों में मैच का दूसरा अर्धशतक जड़ा। इससे पहले वे पहली पारी में भी 50 रन बनाकर आउट हुए थे। भारत को चौथा झटका रिषभ पंत को रूप में लगा जो 118 गेंदों में 97 रन बनाकर आउट हुए। उनको नाथन ल्योन ने पैट कमिंस के हाथों कैच आउट हुए। उन्होंने 12 चौके और 3 छक्के इस पारी में जड़े और भारत को अच्छी स्थिति में पहुंचाया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − 2 =