सुशांत की हत्या नहीं, पहले गिरफ्तार हो सकती है ड्रग्स के मामले में रिया

26/08/2020,10:12:27 PM.

कोलकाताहिंदी.कॉम

कोलकाताः सुशांत मामले में उनके पिता द्वारा उनकी मौत के लिए रिया चुक्रवर्ती को जिम्मेवार बताते हुए 25 जुलाई को पटना में केस दर्ज कराया गया था। तब से रिया पूरे मामले में मुख्य शातिर साजिशकर्ता के रूप में उभरी थी। सुशांत के चाहने वाले उसकी गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। लेकिन जांच पड़ताल में देरी और मामला सुप्रीम कोर्ट में चले जाने से कानूनी पेचीदगी बढ़ती गई। लेकिन रिया पर शिकंजा कस गया है और वह अब कि तब गिरफ्तार हो सकती है।

दरअसल रिया चक्रवर्त और उसकी इवेंट मैनेजर के बीच हुई व्हाट्सऐप चैट, जिसे रिया ने मिटा दिया था, को ईडी ने खोज निकाला है। इस चैट में यह खुलासा हुआ कि रिया ड्रग्स की लेनदेन से जुड़ी है। यह भी खुलासा हुआ कि वह सुशांत को धोखे से ड्रग्स दे रही थी। हालांकि चैट में यह भी पता चला कि सुशांत को वह ड्रग्स से छुटकारा दिलाने के लिए भी कोशिश कर रही थी।

ईडी द्वारा रिया के मोबाइल से मिटा दिए गए व्हाट्सऐप चैट के सनसनीखेज खुलासे से रिया पर नारकोटिक्स ब्यूरो ने शिकंजा कस लिया है। उसने रिया और अन्य के खिलाफ एक मामला दर्ज कर लिया है। दरअसल ईडी ने ही नारकोटिक्स ब्यूरो को पत्र लिखकर पूरे मामले की जानकारी दी थी और जरूरी कदम उठाने को कहा था। इसके बाद ही नारकोटिक्स ब्यूरो तुरंत हरकत में आ गया। इस संबंध में इसके मुख्यालय दिल्ली में बैठक भी हो चुकी है।

रिया से ईडी ने सुशांत के अकाउंट से मनी लॉन्ड्रिंग के मामले कई बार लंबी पूछताछ की थी। उसके बाद पांच दिन पहले जब सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को सुशांत मामले की जांच करने की अनुमति दे दी तो यह लगने लगा कि सीबीआई सबसे पहले रिया को ही दबोचेगी। लेकिन सीबीआई ने ऐसा नहीं किया। उसने सुशांत की मौत के दिन घर में मौजूद उसके चारों स्टाफ सिद्धार्थ पिठानी, नीरज कुमार सिंह, दीपेश से पहले पूछताछ शुरू की। पिछले पांच दिनों से इनसे लगातार पूछताछ की जा रही है। सुशांत की मौत के दिन क्या हुआ था, इनको सुशांत के घर ले जाकर घटना का दो-दो बार रिक्रियेशन किया गया। लगातार पूछताछ में दिखा कि इनके बयान में अंतर आ रहे हैं। सुशांत के स्टाफ से लगातार पूछताछ से जो लोग रिया को जल्द गिरफ्तार होते देखना चाहते थे, वे थोड़ा अधीर होने लगे थे। लेकिन सीबीआई रिया को दबोचने से पहले पूरी तरह सबूत जुटा लेना चाहती है। क्योंकि अभी तक यह दिख रहा है कि रिया के पीछे कई ताकतवर लोग मौजूद हैं जो उसे बचाने में लगे हैं।

लेकिन सीबीआई की जारी पूछताछ के बीच में अब नारकोटिक्स ब्यूरो की इंट्री हो चुकी है जो एक तरह से सीबीआई से कहीं अधिक मामले में तेजी से कार्रवाई करती है। अब रिया के ड्रग्स की लेनदेन व तस्करों के साथ का खुलासा हो गया है तो यह तय है कि रिया अब किसी भी समय गिरफ्तार हो सकती है।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6 − three =