‘पूरे होते वादे-अब हैं नये इरादे’ के संकल्प के साथ जदयू का घोषणा पत्र जारी

22/10/2020,4:58:09 PM.

सात निश्चय पार्ट-1 को बढ़ाने से जुड़ा है जदयू का सात निश्चय पार्ट-2
घोषणापत्र में युवा शक्ति-बिहार की प्रगति पहली प्राथमिकता
पटना (एजेंसी)। ‘पूरे होते वादे, अब हैं नये इरादे’ के संकल्प के साथ जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह और कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष अशोक चौधरी ने गुरुवार को विधानसभा चुनाव को लेकर पार्टी का घोषणा-पत्र जारी किया। 25 दिन पहले ही जारी हो चुके सात निश्चय पार्ट 2 को ही घोषणा पत्र का नाम दिया गया है।

घोषणापत्र में जदयू ने सात निश्चय किया है। सत्ता में वापसी पर पार्टी सक्षम बिहार-स्वावलंबी बिहार के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए सात निश्चय कार्यक्रम को बढ़ाएगी और सात निश्चय पार्ट-2 कार्यक्रम को लागू करेगी। जदयू का सात निश्चय पार्ट-2 उसके सात निश्चय पार्ट-1 को बढ़ाने से जुड़ा है। सात निश्चय पार्ट-2 में युवा शक्ति बिहार की प्रगति, सशक्त महिला-सक्षम महिला, हर खेत में सिंचाई का पानी, स्वच्छ गांव-समृद्ध गांव, स्वच्छ शहर-विकसित शहर, सुलभ संपर्कता, सबके लिए स्वास्थ्य सुविधा का वादा किया गया है। जदयू के सात निश्चय पार्ट 1 में आर्थिक हल-युवाओं को बल, आरक्षित रोज़गार-महिलाओं का अधिकार, हर घर बिजली, हर घर नल का जल, घर तक पक्की गली नालियां, शौचालय निर्माण-घर का सम्मान और अवसर बढ़े-आगे पढ़ें के संकल्प थे।

पूरे होते वादे-अब हैं नये इरादे के संकल्प के साथ जारी जदयू के विजन डक्यूमेंट के तहत अगले पांच साल के दौरान बिहार के विकास के लिए सात प्रमुख कार्यक्रम चलाए जाएंगे। इसमें युवा शक्ति को पहले स्थान पर रखा गया है, जबकि वैश्विक महामारी कोराना के संक्रमण से जूझते बिहार में स्वास्थ्य 7वें नंबर पर है।

हम जो वादा करते हैं, उसे पूरा करते हैः वशिष्ठ नारायण

पार्टी का घोषणापत्र जारी करते हुए जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि हम जनता के सामने सिर्फ सात निश्चय पेश कर रहे हैं। इसमें युवा शक्ति-बिहार की तरक्‍की पर खास फोकस रहेगा। हम जो वादे करते हैं, उसे पूरा करते हैं। इसे जनता ने देखा है। इस कार्यकाल में हमने सात निश्चय योजना को लागू किया। यदि हमारी सरकार बनती है तो सात निश्चय-2 के तहत हर खेत में पानी पहुंचाने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि सात निश्चय योजना ही हमारी पार्टी का मात्र एक संकल्प है। हमें कोई लंबी सूची जारी नहीं करना है। पिछले पांच साल में हमने सात निश्चय योजना पर काम किया है। अब सात निश्चय टू पर काम करना है। ऐसे में कहीं कुछ काम बाकी है, तो उसे तुरंत पूरा कर लिया जाएगा।

राजद बताये 5 लाख करोड़ कहां से आयेंगेः अशोक चौधरी

जेडीयू के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी ने 10 लाख नौकरी देने के राजद के वादे पर तेजस्वी का नाम लिये बगैर कहा कि उन्‍होंने जो योजनाएं बनाई हैं, उसके लिए बिहार सरकार को 5 लाख करोड़ रुपये की जरूरत होगी। वे युवाओं को बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्हें बताना चाहिए कि 5 लाख करोड़ रुपये कहां से आयेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अथक प्रयास से बिहार का बजट सवा दो लाख करोड़ रुपये का हुआ है जबकि तेजस्वी के माता-पिता 24 हज़ार करोड का बजट छोड़ कर 2005 में गये थे। ये लोग अब गुमराह कर रहे हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eight + 14 =