14 अगस्त को ही सचिन ने बनाया था पहला टेस्ट शतक, याद कर हुए भावुक

14/08/2020,4:48:31 PM.

कोलकाताहिंदी.कॉम

कोलकाताः 14 अगस्त। यह दिन भले भारत के लोगों को स्वाधीनता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति द्वारा दिए जाने वाले देश के नाम अपने संदेश को लेकर याद रहता है लेकिन यह दिन क्रिकेट के भगवान यानी सचिन तेंदुलकर के लिए बेहद खास है। यह दिन ही है जब सचिन ने अपने जीवन का पहला अंतराष्ट्रीय शतक लगाया था। वह भी इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में, उसकी धरती पर।

भारतीय क्रिकेट टीम 1990 में इंग्लैंड के दौरे पर थी। मैचेस्टर के ओल्डट्रैफेड टेस्ट में मुश्किल घड़ी में सचिन तेंदुलकर बैटिंग करने उतरे थे। यह टेस्ट उनके जीवन का आठवां टेस्ट था। सचिन ने नाबाद रहते हुए कुल 119 रन बनाए और भारत को हार के मुंह में जाने से बचाया। टेस्ट डॉ रहा था। सचिन ने जब यह टेस्ट शतक लगाया था तब उनकी उम्र मात्र 17 और 112 दिन की थी। वह दुनिया में तीसरे सबसे कम उम्र में शतक लगाने वाले बल्लेबाज बने।

लेकिन सचिन ने यह शतक लगाया कर आभास दिया था कि वह क्रिकेट दुनिया में राज करने के लिए आये हैं। हालांकि तब इस विषय में ज्यादा कुछ नहीं कहा गया। लेकिन आज सचिन के नाम दुनिया में सबसे अधिक रन और शतक बनाने का रिकॉर्ड है-टेस्ट और वनडे दोनों में। सचिन ने टेस्ट में 51 शतक ठोकते हुए कुल 15,921 रन बनाए हैं। इसके लिए उन्होंने 200 टेस्ट खेले हैं। वहीं वनडे में उन्होंने 49 शतक लगाते हुए कुल 18,426 रन बनाए हैं। उन्होंने वनडे में 96 अर्धशतक भी लगाए हैं। इनमें तकरीब 10 बार वह 90 के घर में आउट हुए नहीं हैं।

सचिन को अपना पहला टेस्ट बनाए आज 30 साल हो गए हैं। उन्होंने इस दिन को याद करते हुए समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा कि मैंने 14 अगस्त को अपना पहला टेस्ट शतक बनाया था। दूसरे दिन ही हमारा स्वतंत्रता दिन होता है। इसलिए यह खास है। दरअसल इस शतक की वजह से हम उस सीरीज में बने रहे और अगला टेस्ट ओवल में होना था जिसे लेकर उत्सुकता बनी रही।

सचिन के पहले शतक को याद करते हुए आईसीसी ने आज एक ट्वीट कर कहा है कि इस दिन 17 साल के सचिन ने अपना पहला शतक ठोका था, और बाकी चीजें तो इतिहास है…

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *