वायुसेना ने ​17,​982 फीट ​ऊंचाई पर ​स्काईडाइव लैंडिंग का बनाया नया ​रिकॉर्ड

09/10/2020,8:52:54 PM.

– ​विंग कमांडर गजानंद यादव और वारंट अधिकारी एके तिवारी ने की ​स्काईडाइविंग
– लेह के खारदुंगला दर्रा​ पर दुर्गम पहाड़ी इलाके में उतरे दोनों वायु योद्धा
​​
नई दिल्ली (एजेंसी)। ​भारतीय वायुसेना ने लेह में ​खारदुंगला ​दर्रे पर ​​17​ ​​हजार ​982 फीट की ​​ऊंचाई पर ​​​स्काईडाइव लैंडिंग का एक नया ​​रिकॉर्ड हासिल किया​ है​। ​​​​विंग कमांडर गजानंद यादव और वारंट अधिकारी एके तिवारी ने ​सुपर हरक्यूलिस सी-130 जे विमान से ​​स्काईडाइविंग ​करके यह मुकाम हासिल किया है​। ​​

प्रवक्ता ने बताया कि भारतीय वायुसेना टीम भावना, शारीरिक और मानसिक साहस के गुणों को स्थापित करने के उद्देश्य से हमेशा अपने कर्मियों के लिए साहसिक गतिविधियों को बढ़ावा देती रही है।​​ वायुसेना ने हमेशा युवा एयर वारियर्स को साहसिक गतिविधियों के लिए प्रेरित करने के ​साथ-साथ जमीनी स्तर पर क्षमता निर्माण और साहसिक गतिविधियों को बढ़ावा देने की दिशा में निरंतर प्रयास किए हैं।​ भारतीय वायु सेना ने 08 अक्टूबर, 2020 को अपनी 88वीं वर्षगांठ मनाई।​ इस मौके पर वायुसेना ने लेह के खारदुंगला दर्रा​ पर उच्चतम स्काईडाइव लैंडिंग का एक नया रिकॉर्ड ​बनाया​।

​​वायुसेना के विंग कमांडर गजानंद यादव और वारंट अधिकारी एके तिवारी ने ​सुपर हरक्यूलिस सी-130 जे विमान से स्काईडाइविंग की और ​17 हजार 982 फीट की ऊंचाई पर लैंड करके अपने पहले के रिकॉर्ड को तोड़ दिया​​। कम वायु घनत्व और ऑक्सीजन का स्तर कम होने के कारण दुर्गम पहाड़ी इलाके में इतनी ऊंचाई पर उतरना बेहद चुनौतीपूर्ण था। फिर भी दोनों वायु योद्धाओं ने प्रतिकूल परिस्थितियों पर काबू पाने के साथ नया रिकॉर्ड स्थापित करके उत्कृष्ट व्यावसायिकता, धैर्य और दृढ़ संकल्प दिखाया है। यह अनूठी उपलब्धि एक बार फिर चुनौतियों के बावजूद नई ऊंचाइयों को मापने के लिए भारतीय वायुसेना की क्षमता को प्रदर्शित करती है और मिशन, अखंडता और उत्कृष्टता के हमारे आदर्श वाक्य के लिए प्रतिबद्ध है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven + 7 =